मेरी बहन की कामुकता

हेलो मित्रो आप सब मेरी यह सेक्स स्टोरी पढ़े, शेयर करे और अपने एक्सपीरीयन्स मुझसे शेयर करे. यह मेरी और मेरी बहन के बिच हुई एक सत्य घटना हे.. मेरी एज २८ साल की हे और मरी बहन की एज २६ साल की हे. हमारे घर में, मेरे पापा मेरी मम्मी, में और मेरी प्यारी बहन रहते हे. हम चारो लग अलग अलग कंपनी में जॉब करते हे.

हम सब लोग मिलके कमाते हे तो हमारे घर में पैसे की कुछ भी कमी नही हे.. मेरी मम्मी की उमर अभी ५४ साल की हे और उनका फिगर ३६-३४-४२ हे. मेरे पापा की उमर इस वक्त ५८ साल की हे. और मेरे मम्मी और पापा इस उमर में भी बहोत ही फिट और तंदुरुस्त हे. मेरे पापा पहले आर्मी में थे और इसी कारण उन्हें आपने शरीर की अच्छे तरीके से देखभाल करनी आती हे और उन्हें रोज व्यायाम करने की आदत हे और इसी कारण मेरी मोम भी मेरे पापा के साथ रह कर रोज व्यायाम करने लगी और उन दोनों की तबियत रोज व्यायाम करने के कारण एकदम फिट और चुस्त दुरुस्त हे. अब मेरी बहन श्वेता के बारे में बताता हु. मेरी बहन बहुत ही स्मार्ट और सेक्सी हे उसकी फिगर का साइज़ ३४-३०-३८ हे.

वह एकदम कामुक देवी जेसी दिखती हे .. हा तो यह मेरी फेमिली और मेरे बारे में कहने के बाद अब में अपनी स्टोरी पर आता हु.. हम भाई बहन अक्सर अपने अपने रूम में ही पड़े रहते हे और हम अपनी अपनी पर्सनल सीस्टिम यूज करते हे… एक दिन में इसे ही मुझे न्यूज़ पेपर पढने की इच्छा हुई तो में मेरी बहन के कमरे में न्यूज़ पेपर लेने के लिए चला गया.

उस समय वह उसके रूम के अंदर नहीं थी. और मैने देखा की पेपर उसके लेप टॉप के निचे रखा हुआ था.. मैने उसका लेप टॉप हटाया तो वह चालू था और मैने तब यु ही उसकी सिस्टिम पर नजर डाली तो मैने देखा की उस पर जोजो सेक्स चेट साईट खुली हुई थी, और वह उसके रियल नेम श्वेता के नाम से लोग इन थी. यह सब देख के मुझे सब कुछ मेरे समज में आ गया और उस दिन से मेरी नजर मेरी बहन के लिए एकदम बदल सी गयी थी.

अब वह मुझे अपनी बहन के बदले अब एक लड़की दिखने लगी थी. में ओने रूम में आकर जोजो पर चेट करने लगा. में नॉर्मली अपना नाम incest lover ही मेरे चेट में यूज करता हु .. में वह पर मेसेज कर रहा था पिंग मी फॉर रोमेंटिक, सेक्सी, हॉट एंड लोंग रिलेशनशिप incest चेट. मुझे बहोत लोग पिंग करते हे. बट अक्सर लड़के लडकियों के नाम से पिंग करते हे. मुझे उनसे कोई भी प्रॉब्लम नहीं हे. क्योंकि वह भी मेरी तरह incest चेट करते हे. सो उस दिन मुझे नताशा ने पिंग किया.. मुझे पता था की वह मेरी सगी बहन हे पर मुझे incest बहोत पसंद हे. मैने श्वेता के साथ नोरमल बाते करना चालू कर दिया क्योंकि मुझे तो सब कुछ अछि तरह से पता था की वह मेरी सगी बहन हे जो इस वक्त मेरे पास वाले कमरे में बेठी हुई हे पर यह बात श्वेता को नहीं पता थी की वह अपने सगे भाई के साथ चेट कर रही हे.

तो वह मुझसे एकदम नोर्मल ही चेट कर रही थी. वह बहोत गर्म हो चुकी थी. और बस incest रोलप्ले करना चाहती थी. मैने श्वेता से पूछा तो उसने बताया की उसे अपने भाई का रोलप्ले करना हे. उसके साथ कुछ देर चेट करने के बाद मुझे पता चला की मेरी बहन एक बहोत की कामुक किस्म की लड़की हे और उसके मन में बहोत ही हवस भरी हुई हे. उसने मुझे अपनी बहोत साडी सेक्सी फिलिंग मेरे साथ शेयर की और वह बोली.. में तो अपनी गांड को खुब हिला हिला कर मेरे भाई को गरम करने की कोशिश करती हु पर वह तो मुज पर ज्यादा ध्यान ही नहीं देता हे.

मैने उसको कहा की आप चाहो तो में आपको कुछ टिप्स दे सकता हु जिसे करने से आपको आपका भाई बहोत आसानी से मिल जायेगा. श्वेता बहुत एक्साईट हो रही थी. वह मेरी हर बात मान रही थी. तो मैने उसे कहा की वह उसके भाई के कमरे में जाए और जो में कहता हु वह करे और ऐसे करे की उसके भाई को तुम्हारी सेक्सी गांड दिख जाये. तुम उसके सामने थोडा जुक कर उसे अपने बोबे और गांड दिखाओ, और तुम अंदर पेंटी मत पहनना और कोई पुरानी लेगी जो तुम्हे ना आती हो और बहोत टाईट हो वह पहनना.

और फिर क्या होता हे मुझे जरुर बताना. श्वेता ने कहा.. मुझे बहोत डर लग रहा हे .. मैने उसे समजाया की डरो नही क्योंकि उसकी भी नजर तुम पर होगी और तुम्हे जो चाहिए हे वह उसे भी चाहिए होगा पर वह हिम्मत करने से डरता होगा तुम जरा उसे अपने मन की बात बता दो तो तुम दोनो का काम आसान हो जायेगा और तुम्हे जो चाहिए हे वह मिल जायेगा. और मैने कहा की हिम्मत करो और उसके रूम में जाकर जेसे मैने कहा हे वैसे करो. और फिर वह मुझे बोली के में जाती हु और फिर आकर बताती हु के क्या होता हे.. और फिर मेरी बहन सच में मेरे रूम के अंदर आ गयी,. उसने एक पुरानी लेगी पहनी हुई थी जो उसे आ नहीं रही थी .. पर उसने जबरन उसको फसा के रखा था. जब वह मैरे रूम में आई तब उकसे चेहरे से उसका डर साफ साफ नजर आ रहा था.

अब उसकी लेगी से उसके सरे कर्व साफ साफ दिख रहे थे. और वह मेरे सामने वाले अलमारी के निचे वाले हिस्से से कुछ निकाल रही थी और उस के लिए वह वहां पर जुकी हुई थी .. और उसकी बड़ी और सेक्सी गांड मेरी आँखों के सामने थी .. में मेरी बहन की बड़ी सेक्सी गांड को एकदम घुर घुर के देख रहा था. ओह माय गॉड … मेरे मुह से वोव निकला जो शायद मेरी बहन ने सुन लिया था. फिर वह एकदम से खड़ी हुई और एक बुक लेके शरमाते हुए मेरे पास में आई और मुझसे बोली : मिल गया भैया ये . मेरा लंड तो पहले से ही कडक हो रहा था .. और वह उसने देख भी लिया था.

मैंने झट से अपनी गोद में तकिया रखा और उसे स्माइल की और वह वापस अपने रुम में चली गई और मुझे मैसेज किया, आई एम बैक… मैंने पूछा श्वेता.. क्या हुआ? तो वह बोली यार भइया तो सही में मेरी गांड घुर रहे थे और उनका शायद खड़ा भी हो गया था. अब तो मुझे भी यकीन हो गया था मेरी बहन बहुत प्यासी है.

वह मुझ पर ट्रस्ट करने लगी. और बोली और बताओ ना क्या करूं? मैंने कहा तो मुझे क्या मिलेगा? श्वेता बोली : तुम जो बोलो मैं करुंगी. बस पहले मेरा काम हो जाए. मुझे तो यकीन नहीं हुआ मैंने कहा श्वेता फिर तुम मुझे भी दोगी.

तो उसने रिप्लाई किया हां.. पर पहले भइया… मेरी बहन तो बहुत ही बड़ी हो चुकी थी.. ओके श्वेता.. मैंने कहा.. अगर मैं यह कहूं… कि मैं तुम्हें जानता हूं तो…. श्वेता शोक्ड हो गई और बोली अच्छा कैसे मगर…

मैं : अभी तो मेरी रूम में हो कर गई हो….

श्वेता : ओह माय गोड़… शिट शिट शिट … यह आप हो…

मैं : हा मेरी प्यारी बहना मैं हूं…

फिर वह मेरे रूम में आ गई.

रात के 11:00 बज चुके थे मॉम डैड भी अपने बेडरूम में सो चुके थे जो ऊपर था. वह आकर मुझसे लिपट गई, मैंने भी उसे बाहों में भरा और टाईट हग कीया. और मैं उसके नरम मुलायम होठों को अपने होठों में लेकर चूसने लगा. उसके बड़े बड़े बूब्स को अपने हाथों से दबाने लगा. मेरी बहन आह अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह करने लगी. उसका हाथ मेरे लंड पर था. मैंने उसकी टी शर्ट उतार दी, और उसकी लेगी भी फाड़ कर अलग कर दी. अब मेरी बहन मेरे सामने एकदम नंगी खड़ी हुई थी.

मैंने उसे झुकाया और उसकी गांड पर हाथ फेरा. तो वह सीधी होकर बोली : पहले मेरी प्यास बुझा दो और उसने मेरी पेंट खोल कर मुझे भी नंगा कर दिया. वह मेरा लंड देखकर बहुत एक्साइट हो गई. और फिर अपने घुटने पर बैठ कर मेरा लंड चूसने लगी. मैं मेरी बहन के सर पर हाथ फेर रहा था और वह मेरा लंड चूस रही थी. मेरे लंड से निकलने वाला था मैंने कहा श्वेता अब निकलने वाला है बस करो.. वरना… तो उसने मेरे लंड को पूरा अपने मुंह में भर लिया और मेरा वीर्य मेरी बहन के मुंह में चला गया. मेरा गरम-गरम और ताजा वीर्य मेरी सगी बहन के मुंह में था.

वह उसे सारा पी गई, और होली हां भैया अब आप आ जाओ मैं नीचे लेता तो मेरी बहन मेरे मुंह पर आकर बैठ गई मैं मेरी बहन की चूत को चाट रहा था और उसकी गांड चाट रहा था.

करीब 20 मिनट तक मैंने उसकी गांड और चूत चाटी. मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा. मेरी बहन अपने पैर फैलाकर बैठ गई. मैंने उसकी चूत पर अपना लंड रखा और एक ही झटके में उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया. वह आह हह्ह्ह अह्ह्ह औच कर के चिल्लाने लगी. मैं अपना लंड मेरी बहन की चूत में डाले जा रहा था मेरी बहन भी अपनी गांड उठा उठा कर अपनी चूत में मेरा लंड ले रही थी.. मेरी बहन की चूत से पानी निकलने लगा और वह मचलने लगी.

मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकाला और उसे घोड़ी बनने को कहा. श्वेता मेरी सगी बहन… अपनी मोटी और बड़ी गांड ऊंची करके बैठ गई… और बोली भइया आओ… अब मार लो अपनी सगी बहन की मोटी गांड… मैंने अपने लंड मेरी बहन की गांड में घुसा दिया और वह चिल्लाने लगी आह्ह्ह अह्ह्ह औऊ अह्ह्ह औऊ ओह्ह अहह प्लीज़ धीरे धीरे करो न भैया में कही नहीं भागी जा रही हु. पर मैं उसकी गांड में धक्के दीए जा रहा था. करीब 10 मिनट मैंने मेरी बहन की गांड मारी और जब मेरा वीर्य निकलने वाला था मैंने मेरी बहन के मुंह में ही वह वीर्य निकाल दिया. मैंने उस रात करीब तीन बार मेरी बहन को चोदा. उसकी हालत बहुत खराब थी… वह जैसे तैसे जाकर अपने रुम में सो गई.

अगली सुबह उसकी तबीयत खराब हो गई और वह ऑफिस नहीं जा सकी.. दो-तीन दिन यूं ही बीत गये. फिर संडे आ गया.. संडे को मेरे पापा ने मुझसे कहा कि मैं अपने फार्म हाउस जाकर अपनी फसल देख आऊ, और श्वेता को भी फार्म हाउस दिखा लाऊ. मैं तो बहुत खुश हो गया. मैंने श्वेता को कार में बिठाया और फार्म हाउस के लिए निकला. रास्ते में मैंने कार रोकी और मेरी बहन श्वेता से कहा.. उस रोज मजा आया…

मेरी बहन ने कहा : हां भैया, बहुत मजा आया.